Bihar Board Class 8 Science Chapter 5 Solutions – बल से ज़ोर आजमाइश

Bihar Board class 8 Science chapter 5 solutions are shared for free here. This is our comprehensive guide for students to clear their doubts with class 8 Vigyan chapter 5 – “बल से ज़ोर आजमाइश”. All the answers and explanations written in this guide are prepared by subject experts and are in hindi medium.

बल और गति के सिद्धांतों पर आधारित यह अध्याय भौतिक विज्ञान की एक महत्वपूर्ण शाखा है। इस अध्याय के माध्यम से विद्यार्थी बल की अवधारणा, उसके प्रकार, बल के परिणामस्वरूप होने वाले प्रभावों तथा बल और गति के बीच के संबंध को समझेंगे। साथ ही, गुरुत्वाकर्षण बल, घर्षण बल और उनके उदाहरणों पर भी विचार करेंगे।

Bihar Board Class 8 Science Chapter 5

Bihar Board Class 8 Science Chapter 5 Solutions

SubjectScience (विज्ञान)
Class8th
Chapter5. बल से ज़ोर आजमाइश
BoardBihar Board

प्रश्न 1: किसी वस्तु को धक्का देना या खींचना कौन-सी क्रिया है ?

उत्तर- किसी वस्तु को धक्का देना या खींचना बल लगाना है। यह एक बाह्य क्रिया है जिसके द्वारा किसी वस्तु पर बल लगाकर उसके स्थान, आकार, गति या दिशा को परिवर्तित किया जा सकता है। धक्का देना और खींचना दोनों ही बल लगाने के तरीके हैं।

प्रश्न 2: बल क्या है?

उत्तर- बल एक भौतिक राशि है जो किसी वस्तु के स्थान, आकार, गति या दिशा को परिवर्तित करने की क्षमता रखती है। बल का परिमाण न्यूटन में मापा जाता है। बल एक दिश राशि है, इसका अर्थ है कि इसकी दिशा होती है। जब किसी वस्तु पर बल लगाया जाता है, तो उस पर दो प्रभाव पड़ सकते हैं – गति उत्पन्न करना या गति में परिवर्तन करना।

प्रश्न 3: बल के द्वारा कौन-सी क्रिया की जा सकती है ?

उत्तर- बल के द्वारा निम्नलिखित क्रियाएं की जा सकती हैं:

  1. वस्तु के आकार में परिवर्तन लाना
  2. वस्तु की अवस्था (ठोस, द्रव या गैस) में परिवर्तन करना
  3. वस्तु को गति देना या उसकी गति को बढ़ाना/घटाना
  4. वस्तु की गति की दिशा में परिवर्तन करना
  5. वस्तु का स्थान परिवर्तित करना

प्रश्न 4: वस्तुओं की अन्तःक्रिया से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर- जब दो वस्तुएं एक-दूसरे के सम्पर्क में आती हैं, तो वे एक-दूसरे पर बल लगाती हैं। इस प्रकार की आपसी क्रिया को अन्तःक्रिया कहते हैं। उदाहरण के लिए, जब आप किसी वस्तु को धक्का देते हैं, तो वस्तु भी विपरीत दिशा में आपको धक्का देती है। यही अन्तःक्रिया कहलाती है। अन्तःक्रिया के बिना बल नहीं लग सकता है।

प्रश्न 5: एक ऐसा उदाहरण दीजिए जिसमें दो व्यक्तियों द्वारा बल आरोपित किया जा रहा है परन्तु परिणामी बल शून्य होता है।

उत्तर- जब दो व्यक्ति किसी वस्तु पर समान बल लगाते हैं लेकिन विपरीत दिशाओं में, तो परिणामी बल शून्य हो जाता है। उदाहरण के लिए, दो लोग एक पेटी को विपरीत दिशाओं में खींचते हैं और पेटी अपनी जगह पर ही रहती है। इस प्रकार, दोनों व्यक्तियों द्वारा लगाए गए बल एक-दूसरे को समाप्त कर देते हैं और परिणामी बल शून्य हो जाता है।

प्रश्न 6: रस्साकशी के खेल में दो दलों द्वारा बल किस दिशा में लगाया जाता है ?

उत्तर- रस्साकशी के खेल में, दोनों दल एक रस्सी के दो छोर से खींचते हैं। वे दोनों विपरीत दिशाओं में बल लगाते हैं ताकि रस्सी को अपनी ओर खींच सकें। इस प्रकार, दोनों दलों द्वारा लगाए गए बल विपरीत दिशा में होते हैं।

प्रश्न 7: सम्पर्क, असम्पर्क बल के दो प्रकारों को स्पष्ट कीजिए।

उत्तर- सम्पर्क बल और असम्पर्क बल दो प्रकार के बल होते हैं।
सम्पर्क बल: जब दो वस्तुएं सीधे या किसी माध्यम के जरिए एक-दूसरे के सम्पर्क में होती हैं, तो उनके बीच लगने वाले बल को सम्पर्क बल कहते हैं। कुछ उदाहरण हैं:

  • जब आप किसी वस्तु को धक्का देते या खींचते हैं।
  • जब आप किसी वस्तु को उठाते हैं।
  • जब गाड़ी के पहिये सड़क पर घर्षण बल का अनुभव करते हैं।
  • जब घोड़ा गाड़ी को खींचता है।

असम्पर्क बल: जब दो वस्तुएं एक-दूसरे के सीधे या किसी माध्यम के जरिए सम्पर्क में नहीं होती हैं, लेकिन फिर भी एक-दूसरे पर बल लगाती हैं, तो उस बल को असम्पर्क बल कहते हैं। कुछ उदाहरण हैं:

  • पृथ्वी द्वारा किसी वस्तु को नीचे की ओर खींचना (गुरुत्वाकर्षण बल)।
  • दो आवेशित वस्तुओं के बीच विद्युत बल।
  • दो चुंबकों के बीच चुंबकीय बल।

प्रश्न 8: गुरुत्वाकर्षण बल, विद्युत बल, घर्षण बल से क्या समझते हैं ?

उत्तर-

  • गुरुत्वाकर्षण बल: यह एक प्रकार का असम्पर्क बल है जो पृथ्वी द्वारा सभी वस्तुओं को अपनी ओर खींचने के लिए लगाया जाता है। इसी बल के कारण वस्तुएं नीचे गिरती हैं।
  • विद्युत बल: जब दो वस्तुओं को रगड़ा जाता है, तो उनमें विद्युत आवेश उत्पन्न होता है। इन आवेशित वस्तुओं के बीच विद्युत बल लगता है जो एक असम्पर्क बल है। यह बल आकर्षण या विकर्षण का हो सकता है।
  • घर्षण बल: जब किसी वस्तु के सतह पर दूसरी वस्तु गतिशील होती है, तो दोनों सतहों के बीच घर्षण बल लगता है। यह एक सम्पर्क बल है जो गति का विरोध करता है।

प्रश्न 9: भार क्या है? क्या भार को बल की माप के लिए प्रयुक्त किया जा सकता है ?

उत्तर- भार किसी वस्तु पर लगने वाला गुरुत्वाकर्षण बल है। पृथ्वी अपने गुरुत्वाकर्षण बल के कारण वस्तुओं को नीचे की ओर खींचती है और यही बल वस्तु का भार कहलाता है। भार का मान द्रव्यमान और गुरुत्वीय त्वरण के गुणनफल के बराबर होता है।
हां, भार को बल की मात्रा के रूप में प्रयुक्त किया जा सकता है। स्प्रिंग तुला भार को मापने का एक साधन है। हम भार का मान पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण बल के कारण मापते हैं। भार न्यूटन में मापा जाता है जो बल की इकाई है।

प्रश्न 10. मिलान कीजिए

कॉलम 1कॉलम 2
1. गुरुत्वाकर्षण बल2. सेब का पेड़ से टूटकर गिरना
2. विद्युत बल5. कागज के टुकड़े का आकर्षित होना
3. घर्षण बल4. ऊष्मा उत्पन्न करना
4. चुम्बकीय बल3. लोहे की कील को आकर्षित करना
5. पेशीय बल1. घोड़ा द्वारा गाड़ी खींचना

प्रश्न 11. बल की इकाई का नाम बताइए।

उत्तर- बल की मात्रक इकाई न्यूटन (N) है।

प्रश्न 12. जब गेंद हवा में फेंका जाता है तो इसकी गति में परिवर्तन होता रहता है। ये परिवर्तन किन-किन बलों के द्वारा किए जाते हैं?

उत्तर- जब किसी गेंद को हवा में फेंका जाता है, तो निम्नलिखित बल उसकी गति में परिवर्तन लाते हैं:

  • गुरुत्वाकर्षण बल या भार: पृथ्वी का गुरुत्वाकर्षण बल गेंद को नीचे की ओर खींचता है और इसकी गति में परिवर्तन करता है।
  • वायु प्रतिरोध: जब गेंद हवा में गति करती है, तो हवा के परमाणुओं से टकराव के कारण एक प्रकार का प्रतिरोध बल लगता है, जिसे वायु प्रतिरोध कहते हैं। यह गेंद की गति को धीरे-धीरे कम करता है।
  • प्रारंभिक आरोपित बल: जब गेंद को फेंका जाता है, तो उस पर एक बल लगाया जाता है जो उसे गति प्रदान करता है। यह आरोपित बल भी गेंद की गति को प्रभावित करता है।

प्रश्न 13. पेड़ से नीचे गिरते सेब पर कौन-सा बल कार्य करता है?

उत्तर- गुरुत्वाकर्षण बल।

प्रश्न 14. जब दो वस्तुओं को एक-दूसरे के साथ रगड़ खाता है तो इनकी सतहों के बीच जो बल कार्य करता है वह बल होता है।

उत्तर- घर्षण बल ।

प्रश्न 15. इनमें कौन असम्पर्क बल है?

  1. खिंचाव
  2. धक्का
  3. चुम्बकीय
  4. घर्षण

उत्तर- 3. चुम्बकीय ।

Other Chapter Solutions
Chapter 1 Solutions – दहन और ज्वाला : चीजों का जलना
Chapter 2 Solutions – तड़ित ओर भूकम्प : प्रकुति के दो भयानक रूप
Chapter 3 Solutions – फसल : उत्पादन एवं प्रबंधन
Chapter 4 Solutions – कपड़े तरह-तरह के : रेशे तरह-तरह के
Chapter 5 Solutions – बल से ज़ोर आजमाइश
Chapter 6 Solutions – घर्षण के कारण
Chapter 7 Solutions – सूक्ष्मजीवों का संसार : सूक्ष्मदर्शी द्वारा आँखों देखा
Chapter 8 Solutions – दाब और बल का आपसी सम्बन्ध
Chapter 9 Solutions – इंधन : हमारी जरुरत
Chapter 10 Solutions – विद्युत धारा के रासायनिक प्रभाव
Chapter 11 Solutions – प्रकाश का खेल
Chapter 12 Solutions – पौधों और जन्तुओं का संरक्षण : जैव विविधता
Chapter 13 Solutions – तारे और सूर्य का परिवार
Chapter 14 Solutions – कोशिकाएँ : हर जीव की आधारभूत संरचना
Chapter 15 Solutions – जन्तुओं में प्रजनन
Chapter 16 Solutions – धातु एवं अधातु
Chapter 17 Solutions – किशोरावस्था की ओर
Chapter 18 Solutions – ध्वनियाँ तरह-तरह की
Chapter 19 Solutions – वायु एवं जल-प्रदूषण की समस्या

Leave a Comment