Bihar Board Class 7 Civics Chapter 3 Solutions – शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार की भूमिका

Searching for Bihar Board class 7 Civics chapter 3 solutions? Get our free guide on chapter 3 – “शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार की भूमिका” here. This gives you a comprehensive set of questions and answers from the exercise in hindi.

बिहार बोर्ड की कक्षा 7 की नागरिक शास्त्र की किताब का तीसरा अध्याय “शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार की भूमिका” पर विचार करता है। यह अध्याय हमें बताता है कि सरकार किस प्रकार शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में अपना योगदान देती है। शिक्षा के लिए सरकार स्कूल खोलती है और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए कदम उठाती है। इसी प्रकार स्वास्थ्य सेवाओं के लिए सरकार अस्पताल चलाती है और सभी के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने का प्रयास करती है।

Bihar Board Class 7 Civics Chapter 3

Bihar Board Class 7 Civics Chapter 3 Solutions

SubjectCivics
Class7th
Chapter3. शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार की भूमिका
BoardBihar Board

पाठगत प्रश्नोत्तर

प्रश्नों के उत्तर दें-

प्रश्न 1. अनुप्रिया एवं उसकी सहेलियाँ क्यों परेशान थीं, उन सबकी परेशानी कैसे दूर हुई ?

उत्तर- अनुप्रिया और उसकी सहेलियां इसलिए परेशान थीं क्योंकि उच्च विद्यालय उनके गांव से काफी दूर स्थित था। उन्हें डर था कि उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए दूर जाना पड़ेगा, जिससे उनकी पढ़ाई बाधित हो सकती है। लेकिन सरकार द्वारा शुरू की गई साइकिल वितरण योजना ने उनकी इस समस्या को दूर कर दिया। उन्हें मुफ्त साइकिलें प्रदान की गईं, जिससे वे आसानी से उच्च विद्यालय जा सकती थीं और अपनी शिक्षा जारी रख सकती थीं।

प्रश्न 2. लड़कियों को शिक्षा ग्रहण करने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है ऐसा क्यों? कारण सहित लिखें।

उत्तर- लड़कियों को शिक्षा प्राप्त करने में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कुछ परिवारों में लड़कियों की शिक्षा पर बहुत कम ध्यान दिया जाता है और उन्हें उच्च शिक्षा से वंचित रखा जाता है। एक बड़ी समस्या यह भी है कि कई गांवों में विद्यालय घर से काफी दूर होते हैं। माता-पिता सुरक्षा कारणों से लड़कियों को दूर भेजने में हिचकिचाते हैं। साथ ही, कुछ परिवार लड़कियों को घर से बाहर भेजकर उच्च शिक्षा दिलाने में आर्थिक रूप से असमर्थ होते हैं।

प्रश्न 3. आपकी समझ में ऐसी क्या व्यवस्था हो सकती है जिससे लड़कियों की परेशानी न हो?

उत्तर- लड़कियों की शिक्षा संबंधित परेशानियों को दूर करने के लिए, हर गांव में मध्य और उच्च विद्यालयों की व्यवस्था होनी चाहिए। इससे लड़कियों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा। साथ ही, हर क्षेत्र में उच्च शिक्षा के लिए कॉलेजों की भी व्यवस्था होनी चाहिए ताकि लड़कियों को घर से बाहर न जाना पड़े। सरकार को छात्रावास और यातायात की सुविधा प्रदान करनी चाहिए। परिवारों में भी लड़कियों की शिक्षा के प्रति सकारात्मक सोच होनी चाहिए।

प्रश्न 4. सुमित की चिन्ता का क्या कारण थी? यदि सुमित की जगह आप होते तो आपके मन में क्या-क्या विचार आते ? आपस में चर्चा करें।

उत्तर- सुमित की चिंता का कारण था कि उसे समय पर पाठ्यपुस्तकें नहीं मिल पा रही थीं। इससे उसकी पढ़ाई प्रभावित हो रही थी और आने वाली परीक्षा के लिए उसके पास पढ़ने को कुछ नहीं था। यदि मैं सुमित की जगह होता, तो मुझे भी यही चिंता सताती। पाठ्यपुस्तकों की अनुपलब्धता से पढ़ाई बुरी तरह प्रभावित होती है। ऐसे में पढ़ाई के प्रति मेरा उत्साह भी कम हो जाता और परीक्षा की चिंता से मैं परेशान रहता। मैं अपने शिक्षकों और अभिभावकों से इस समस्या को उठाता ताकि समाधान निकाला जा सके।

प्रश्न 5. आपको समय पर किताब नहीं मिलने की स्थिति में प्रधानाध्यापक ने क्या प्रयास किया?

उत्तर- समय पर किताबें न मिलने पर, प्रधानाध्यापक स्थिति की जानकारी लेकर विलंब के कारणों का पता लगाते हैं। फिर वे तुरंत इस समस्या को हल करने के लिए उचित कदम उठाते हैं ताकि हम जल्द से जल्द किताबें प्राप्त कर सकें।

प्रश्न 6. मध्याह्न भोजन योजना, पोशाक योजना, भवन निर्माण योजना, आँगनबाड़ी केन्द्र इत्यादि योजनाओं के विषय में शिक्षकों से चर्चा करें कि आखिर इनकी जरूरत क्यों हैं?

उत्तर- ये विभिन्न योजनाएं निम्नलिखित कारणों से महत्वपूर्ण हैं:-

  1. मध्याह्न भोजन योजना से बच्चे स्कूल में शिक्षा के साथ-साथ भोजन भी प्राप्त करते हैं, जिससे उनकी उपस्थिति बढ़ती है।
  2. पोशाक योजना के तहत बच्चों को स्कूल की वर्दी के लिए आर्थिक सहायता मिलती है, जिससे गरीब बच्चे भी स्कूल जा सकते हैं।
  3. भवन निर्माण योजना से जर्जर भवनों की मरम्मत और नए भवनों का निर्माण होता है, जिससे बच्चों को बेहतर शिक्षा मिल सकती है।
  4. आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों को प्रारंभिक शिक्षा प्रदान की जाती है, जो उनके विकास के लिए महत्वपूर्ण है।

प्रश्न 7. क्या आप अपने विद्यालयों की पढ़ाई व्यवस्था से संतुष्ट हैं ? अपने विचार लिखें।

उत्तर- छात्र इस प्रश्न को स्वयं करे।

प्रश्न 8. यह दोनों स्थितियाँ क्यों उत्पन्न होती हैं ? इसके पीछे क्या-क्या कारण है?

उत्तर- छात्र इस प्रश्न को स्वयं करे।

प्रश्न 9. इन दोनों स्थितियों में बच्चों और औरतों को कैसे बचाया जा सकता है?

उत्तर- इन स्थितियों से बचने के लिए, गर्भवती महिलाओं को संतुलित आहार, आवश्यक विटामिन और खनिज पदार्थ मिलना चाहिए। उन्हें नियमित रूप से स्वास्थ्य जांच कराना चाहिए और प्रसव के दौरान अस्पताल में भर्ती होना चाहिए। यह सुनिश्चित करेगा कि माँ और बच्चा दोनों स्वस्थ रहें। साथ ही, गर्भवती महिलाओं को शिक्षित करना भी जरूरी है ताकि वे अपने और बच्चे के स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।

अभ्यास के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1. सबके लिए स्वास्थ्य की सुविधा उपलब्ध करने के लिए सरकार कौन-कौन से कदम उठा सकती है? चर्चा करें।

उत्तर- सभी लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकार निम्नलिखित कदम उठा सकती है:-

  • शुद्ध पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करना।
  • प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और अस्पतालों की संख्या बढ़ाना।
  • सभी टीकों और बुनियादी दवाओं को नि:शुल्क उपलब्ध कराना।
  • गर्भवती महिलाओं को निशुल्क आयरन की गोलियां प्रदान करना।
  • अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में बिस्तर और चिकित्सकों की उपलब्धता सुनिश्चित करना।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और चिकित्सकों की संख्या बढ़ाना।

प्रश्न 2. शिक्षा की स्थिति बेहतर करने के लिए सरकार की क्या भूमिका होनी चाहिए?

उत्तर- शिक्षा की स्थिति में सुधार लाने के लिए सरकार की भूमिका निम्नलिखित हो सकती है:-

  • शिक्षा के अधिकार को कानूनी रूप देना ताकि सभी बच्चों को शिक्षा मिल सके।
  • गांवों और शहरों में विद्यालयों, महाविद्यालयों और शिक्षकों की पर्याप्त संख्या बढ़ाना।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में भी उच्च शिक्षा की सुविधाएं उपलब्ध कराना।
  • लड़कियों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना।
  • शिक्षा को रोजगार से जोड़ना ताकि लोग शिक्षा के महत्व को समझें।

प्रश्न 3. सर्वे क्यों किया जाता है ? आपने इस पाठ में किए गए सर्वे से क्या समझे?

उत्तर- सर्वेक्षण किसी विषय पर लोगों की राय और जानकारी जुटाने के लिए किया जाता है। इससे यह भी पता चलता है कि उस विषय का उनके जीवन पर क्या असर पड़ता है। इस पाठ में किए गए सर्वेक्षण का मुख्य उद्देश्य बच्चों के स्कूल न जाने के कारणों का पता लगाना था। इसमें यह भी जाना गया कि कौन-से बच्चे स्कूल छोड़ देते हैं और कौन बाल मजदूरी करने लगते हैं। इन सभी बातों से बचपन में शिक्षा से वंचित रहने के कारणों का पता चलता है।

प्रश्न 4. एक ही बच्चे में जो सरकारी स्कूल, निजी स्कूल, निजी स्कूल या अन्य किसी स्कूल में पढ़ते हैं उनसे बातचीत करके पता करें कि इन स्कूलों में क्या समान और क्या अन्तर है।

उत्तर- छात्र स्वयं करें।

Other Chapter Solutions
Chapter 1 Solutions – लोकतंत्र में समानता
Chapter 2 Solutions – राज्य सरकार
Chapter 3 Solutions – शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में सरकार की भूमिका
Chapter 4 Solutions – समाज में लिंग भेद
Chapter 5 Solutions – समानता के लिए महिला संघर्ष
Chapter 6 Solutions – मीडिया और लोकतंत्र
Chapter 7 Solutions – विज्ञापन की समझ
Chapter 8 Solutions – हमारे आस-पास के बाजार
Chapter 9 Solutions – बाजार श्रृंखला खरीदने और बेचने की कड़ियाँ
Chapter 10 Solutions – चलें मण्डी घूमने
Chapter 11 Solutions – समानता के लिए संघर्ष

Leave a Comment